By: John Derric

28अक्टूबर को लगेगा चंद्र ग्रहण

चंद्रग्रहण शनिवार को मध्य रात्रि 1:05 बजे से शुरू होगा और रात 2:24 बजे तक रहेगा 

01

चंद्रग्रहण के 9 घंटे पहले सूतक शुरू हो जाएगा और ग्रहण खत्म होने तक रहेगा। इस समय मंदिर में कुछ अवश्य ध्यान देना होगा। 

चंद्रग्रहण का समय 

$399 USD

TeoLAB X9

ग्रहण और ज्योतिष शास्त्र 

वैदिक ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, चंद्र ग्रहण अश्विनी नक्षत्र और मेष राशि में लगेगा 

सूतककाल में कुछ क्रियाएँ वर्जित होती हैं, लेकिन जप, तप, दान, और तीर्थ स्थान करने का सुझाव दिया जाता है 

सूतककाल का महत्व 

ग्रहण की घटना को धार्मिक दृष्टिकोण से शुभ नहीं माना जाता, जबकि वैज्ञानिक दृष्टिकोण से यह एक खगोलीय घटना होती है 

दृष्टिकोण: धार्मिक और वैज्ञानिक 

इस बार चंद्र ग्रहण अश्विनी नक्षत्र और मेष राशि में हो रहा है, जिससे विशेष फलदाता और दुर्घटना का भय है। यह घटना भारत के साथ कई अन्य देशों में भी देखी जा सकेगी। 

चंद्रग्रहण का अंतिम दृष्टिकोण